Breaking News

header ads

कैल्शियम की कमी से क्या होता है । कैल्शियम की कमी होने के क्या क्या कारण हैं । कैल्शियम की कमी के लक्षण। कैल्शियम की कमी को पूरा करने के उपाय ।

  

कैल्शियम की कमी से क्या होता है । कैल्शियम की कमी होने के क्या क्या कारण हैं । कैल्शियम की कमी के लक्षण।  कैल्शियम की कमी को पूरा करने के उपाय ।

आज मैं आपको कैल्शियम के बारे में डीटेल में जानकारी दूंगा कैल्शियम एक महत्वपूर्ण खनिज यानि मिनरल है जो हड्डी के रख रखाव में मुख्य मदद करता है । शरीर क 99% से भी ज्यादा कैल्शियम दांतों और हड्डियों में ही होता है । इसके अलावा शरीर का बाकी बचा हुआ 1% कैल्शियम अन्य महत्वपूर्ण कार्यों में सहायता करता है जैसे मांसपेशियों का रख रखाव करना ह्रदय को मजबूत रखना । कैल्शियम हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है । इसके साथ साथ ही शरीर के कोशिकाओं में भी बहुत ही इम्पॉर्टेंट रोल प्ले करता है।

what happens when calcium deficiency,calcium deficiency treatment
Calcium deficiency



कैल्शियम की कमी से क्या होता है ?

 यदि हमें कैल्शियम की कमी हो जाए तो हमारे शरीर में कौन कौन से रोग होने का खतरा हो सकता है । एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि कैल्शियम की कमी होने से शरीर में कैंसर का खतरा बढ़ जाता है । इसका कारण यह है कि यदि कोशिकाएं सही प्रकार से विकसित नहीं हो पाती हैं उनके चेक पॉइंट पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है जिससे कि वे अनियंत्रित होकर गलत ढंग से विभाजित होना शुरू हो जाती हैं । इस तरह शरीर में कैंसर बन जाता है । 

कैल्शियम की कमी से ब्लड प्रेशर पर प्रभाव पड़ता है ब्लड प्रेशर पर प्रभाव पड़ना मतलब हृदय रोगों को जन्म देना है । जब नियमित रूप से ब्लड की संतुलित मात्रा हृदय तक नहीं पहुँच पाती है तो ऐसे में हार्टअटैक या हार्ट स्ट्रोक होने का खतरा बढ़ जाता है । कैल्शियम की कमी होने से हमारे शरीर की कई महत्वपूर्ण हड्डियां समय से पहले या बाद में टूट जाती हैं और कई बार हल्की सी चोट लगने पर भी इसमें फ्रैक्चर हो जाता है । हड्डियों के टूटने के कारण पेशंट को ओस्टियोपोरोसिस बीमारी भी हो सकती है । यदि पेशेंट के शरीर में कैल्शियम की कमी हद से ज्यादा हो जाती है तो ऐसी स्थिति में उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि इम्यूनिटी वीक हो जाती है जिससे शरीर में कई तरह की अन्य बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है । नसों में ब्लड का प्रवाह सामान्य से बहुत अधिक तेज हो जाता है ऐसे में दिमाग की नसों के फटने का डर हो सकता है । इसलिए हाई ब्लड प्रेशर एक खतरनाक बीमारी कहा जाता है । 

what happens when calcium deficiency,calcium deficiency causes
Calcium deficiency


 कैल्शियम की कमी होने के मुख्य कारण 

 क्यों होती है कैल्शियम की कमी । यदि आप अपने दैनिक आहार में कैल्शियम युक्त चीजों का सेवन बिल्कुल भी नहीं करते । अत्यधिक खाने में फॉस्फोरस मैग्नेशियम का सेवन करते हैं तो इससे आपको कैल्शियम की कमी हो जाती है । अगर आप हर दिन पर्याप्त मात्रा में सूर्य की रोशनी या धूप नहीं लेते तो इससे आपकी बॉडी में कैल्शियम का स्तर कम होने लगता है ।


 यदि आप अपने डेली रूटीन में अधिक मात्रा में चाय या कॉफी का सेवन करते हैं तो इससे भी कैल्शियम की कमी हो सकती है । यदि आप अपनी दिनचर्या में शक्कर युक्त पदार्थों का ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं तो यह शरीर में कैल्शियम की कमी के साथ साथ आपकी हड्डियों को भी कमजोर करता है । शरीर में पाचन क्रिया कमजोर होने से हम जो भी भोजन करते हैं इससे कैल्शियम का सही तरीके से अवशोषण नहीं हो पाता या फिर बहुत कम हो पाता है । इससे हमारी पाचन क्रिया को अधिक मेहनत की आवश्यकता पड़ती है । ये तो हमने आपको बताया किन कारणों से कैल्शियम की कमी होती है

what happens when calcium deficiency, calcium deficiency treatment
Calcium deficiency


 कैल्शियम की कमी के क्या क्या लक्षण हैं ?

 कैल्शियम की कमी से हमारी हड्डियों में दर्द होता है या हमारे पूरे शरीर में हमें दर्द सा महसूस होता है । काफी समय तक एक जगह बैठे रहने के बाद उठने पर जोड़ों में दर्द होना कैल्शियम की कमी को दर्शाता है । बहुत ज्यादा थकान सुस्ती आलस आना कैल्शियम की कमी के लक्षण शरीर में एनर्जी न होना पूरी तरह काम में फोकस न कर पाना ये सब बातें दर्शाती हैं कि आपके शरीर में कैल्शियम की कमी हो गई है ।


 कैल्शियम की कमी से नाखून इतने कमजोर हो सकते हैं कि खुद बखुद टूटने लग जाते हैं । यदि आपकी त्वचा रूखी और लाल हो रही हो और उसमें खुजली हो रही हो तो आप समझ जाएं कि आपके शरीर में कैल्शियम की कमी हो रही है । जब कैल्शियम की कमी होती है तो दांतों की समस्या शुरू हो सकती है जैसे दांत कमजोर होना मसूड़ों की समस्याएं दांतों में सड़न दिल को सही तरह से काम करने के लिए कैल्शियम की जरूरत होती है यदि आपको कैल्शियम की कमी हो तो आपके दिल की धड़कन अचानक से बढ़ने लगती है जिससे कि आपको बेचैनी सी महसूस होती होगी और यदि  बाल लगातार झड़ते हों या फिर बहुत रूखे हो गए हों तो यह दर्शाता है कि आपको कैल्शियम की कमी हो गई है । 


what happens when calcium deficiency,calcium deficiency symptoms
Calcium deficiency


कैल्शियम की कमी को दूर करने के उपाय   

रोजाना अदरक वाले पानी का सेवन करें । इसके लिए आप एक बर्तन में ढेर सारा पानी लें उसमें आप 1 इंच अदरक का टुकड़ा कुचल करके डाल दें । अब आप पानी को अच्छी तरह उबाल लें । जब पानी एक कप जितना हो जाए । इसे छानकर चाय की तरह  करके पीएं । यह कैल्शियम की कमी को दूर करने में बहुत ही मदद करता है । रोजाना दो चम्मच तिल का सेवन करें यह फिर  तिल की चिक्की या लड्डू भी आप खा सकते हैं । हफ्ते में कम से कम दो से तीन बार रागी से बनी इडली डोसा या दलिया खाएं । इससे पर्याप्त मात्रा में कैल्शियम मिलेगा । 


अगर आप डेली सुबह को रातभर भीगी हुई चार से पांच बादाम छीलकर खाते हैं उसके बाद आप एक ग्लास दूध पी लें तो इससे आपको भरपूर मात्रा में कैल्शियम मिलता है क्योंकि दूध और बादाम दोनों ही कैल्शियम का बहुत अच्छा स्रोत हैं । अब हमारी लास्ट रेमेडी है जीरे का पानी ।  इसके लिए आप एक बर्तन में दो ग्लास पानी लें फिर उसमें एक चम्मच जीरा डालें और उस पानी को इतना उबालें कि पानी लगभग एक ग्लास हो जाए । अब आप पानी को छानकर  करके आराम से पीएं । ये आपके लिए बहुत ही लाभदायक होगा । 


 इसके साथ साथ आप विटामिन डी युक्त पदार्थों का सेवन करें जैसे दूध, मक्खन, पनीर, टोफू मछली, अंडा, आदि और अनाज जैसे गेहूं ,बाजरा, मूंग राजमा ,सोयाबीन जैसे मोटे अनाज का सेवन करने से कैल्शियम की कमी की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है । हरी सब्जियों का नियमित रूप से सेवन करें जैसे पालक, मेथी, फूलगोभी, शलगम, गाजर, टमाटर, ककड़ी, आदि नियमित रूप से फलों का भी जरूर सेवन करें । यदि आप पपीता संतरा लीची अनानास कीवी जैसे फलों को रेगुलर खाते हैं तो इससे भी आपको भरपूर मात्रा में कैल्शियम मिलता है ।  एक और बात का जरूर ध्यान दें कि यदि आप डेली सुबह को 8 से 10 के बीच में 15 मिनट के लिए सूरज की रोशनी लेते हैं तो इससे आपके शरीर में कैल्शियम की कमी पूरी होगी 

Post a comment

0 Comments